101+Bewafai Shayari in Hindi | इश्क में बेवफा शायरी

Shortshayari.com में आपका स्वागत है। दोस्तों इस आर्टिकल में दिलों को तोड़ देने वाली बेवफाई शायरी (Bewafai Shayari) मिलेगी। जिंदगी में एक समय ऐसा भी आता है जब दो दिलों का मिलन होता है, तो बड़ी ही खुशी दो दिलों का हलचल बहुत कुछ बयां करता है एक दूसरे के प्यार में पागल दिल हो जाता है, एक दूसरे को अंतिम सांस तक जीवन जीने का कसम खाते हैं। लेकिन कुछ रिश्तो में अलग मोड, दरार आ जाता है। लेकिन ऐसा क्यों होता है लड़कियां पुरुषों में पुरुषार्थ एवं पैसा देखती है। इसलिए हम लड़कों से कहना चाहते हैं की खूब मेहनत से पढ़े लिखे और खूब पैसा कमाए ताकि अपने जीवन साथी का पूरा शौक पूरा कर पाए। जब आपके पास पैसे होंगे तो आप कुछ भी खरीद सकते हैं। आपको ऑफर ही ऑफर नजर आएगा। जीवन की सारी गतिविधियां पैसों पर आधारित हैं।

बेवफाई शायरी हिन्दी
Bewafai Shayari

तेरी चौखट से सर उठाऊ तो बेवफा कहना
तेरे सिवा किसी और को चाहूं तो बेवफा कहना
मेरी वफाओं पे सक है तो खंजर उठा लेना
मैं शौक से ना मर जाऊं तो बेवफा कहना।

💔💔💔

मेरे गम ने होश उनके भी खो दिए
समझते समझते वो भी रो दिए
फिर भी ना समझा मैं उनकी बेवफाई
उनके प्यार में दोस्त यार सब खो दिए।

💔💔💔

मोहब्बत का नशा था उतर गया
जिसे दिल में रखा था वो भी दिल से उतर गया
और प्यार तो बेपनाह मोहब्बत करता था उससे
प्यार का भूत भी उतर गया।

💔💔💔

हमने जरा खता क्या कि तुम नाराज हो गए
हम जरा दूर क्या हुए तुम उदास हो गए
हम जरा दूरा क्या हुए तुम बेवफा हो गए
तुम जरा बेवफा क्या हुए हम बदनसीब हो गए।

💔💔💔

गहराई प्यार में हो तो बेवफाई नहीं होती
सच्चे प्यार में कहीं तन्हाई नहीं होती
मगर प्यार जरा सभल कर करना मेरे दोस्त
प्यार के जख्म की कोई दवा नहीं होती।

💔💔💔

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था
आप कभी खफा होंगे सोच ही नहीं था
जो गीत लिखे हमने कभी तेरे प्यार पर
तेरे वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

💔💔💔

दिल के दरिया में धड़कन की कश्ती है
ख्वाबों की दुनिया में यादों की बस्ती है
मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है
वफा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।

💔💔💔

दिल बार-बार तुझे याद करके रोता है
तेरी बेवफाई में दिल बार-बार धड़कता है
तेरी जुदाई में जब याद आती है तुम्हारी
तो रो लेते हैं हम
नींद तो आती नहीं

ख्वाबों में ही तुझसे मिल लेते हैं हम।

💔💔💔

ढूंढ तो लेते अपने प्यार को हम
शहर में भीड़ इतनी भी न थी
पर रोक दी तलाश हमने
क्योंकि वह खोए नहीं बदल गए थे।

💔💔💔

मोहब्बत से रिहा होना जरूरी हो गया है
मेरा तुमसे जुदा होना जरूरी हो गया है
वफा के तजुर्बे करते हुए तो उम्र गुजारी
जरा सा बेवफा होना जरूरी हो गया है।

खतरनाक बेवफाई शायरी

दर्द भारी शायरी
दर्द भारी शायरी

जान मेरी आंखों से कितने आंसू बह गए
इंसानों की इस भीड़ में देखो हम तन्हा रह गए
करते थे जो कभी अपनी वफा की बातें
आज वही सनम हमें बेवफ़ा कह गए।

💔💔💔

जिंदगी जीने की तमन्ना
अब खत्म सी हो गई है
जबसे तु बेवफा हो गई है।

💔💔💔

जो कहते थे हम है तेरे सनम
वो दाग दे गए देखते-देखते देते
मोहब्बत का इनाम क्या
वो सजा दे गए देखते-देखते
सोचता हूं कि वह कितने मासूम थे
जो बेवफा हो गए देखते देखते।

💔💔💔

तेरे इश्क ने दिया सुकून इतना
कि तेरे बाद कोई अच्छा ना लगे
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर
कि तेरे बाद कोई बेवफा ना लगे।

💔💔💔

न रहकर उदास ए दिल किसी बेवफा की याद में
वो खुश है अपनी दुनिया में तेरा सब कुछ उजाड़ के।

💔💔💔

जमाने के ताने पसंद आने लगे हैं
दर्द भरे गाने पसंद आने लगे हैं
और नए रिश्तों को तो आजमा कर देख लिया हमने
अब कुछ लोग पुराने पसंद आने लगे हैं।

💔💔💔

किस-किस को तू खुदा बनाएगी
किस-किस की तू हसरतें मिटाएगी
कितने ही परदे डाल ले गुनाहों पे
बेवफा तू बेवफा ही नजर आएगी।

💔💔💔

बेवफा से दिल लगा लिया नादान थे
हम गलती हमसे हुई क्योंकि इंसान थे हम
आज जिन्हें नजरे मिलाने में तकलीफ होती है
कुछ समय पहले उनकी जान थे हम।

💔💔💔

छोड़ गए हमको वह अकेले ही राहों में
चल दिए रहने औरों की पनाहों में
शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आई
तभी तो सिमट गए हो गैर की बाहों में।

💔💔💔

रब से ज्यादा जिसे चाहा
उसी ने मुंह मोड़ लिया था
मेरा दिल भी किसके लिए
उसने बेवफा होकर मेरा दिल तोड़ दिया।

Bewafai Shayari

दर्द भारी शायरी
Bewafai Shayari

यह नजर चुराने की आदत आज भी नहीं बदली उनकी
कभी मेरे लिए जमाने से और अब जमाने के लिए हमसे।

💔💔💔

मुझे उसके आंचल का आशियाना ना मिला
उसकी जुल्फों की छांव का ठिकाना ना मिला
कह दिया उसने मुझको ही बेवफा
मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना ना मिला।

💔💔💔

जिन फूलों को सवारा था हमने अपनी मोहब्बत से
हुई खुशबू के काबिल तो बस गैरों के लिए महके।

💔💔💔

नफरत को मोहब्बत की आंखों में देखा
बेरुखी को उनकी अदाओं में देखा
आंखें नम हुई और मैं रो पड़ा…
जब अपने को गैरों की बाहों में देखा।

💔💔💔

मुझे तो तेरे इश्क की तनहाई ने मार डाली
मुझे तो तेरे इश्क की जुदाई ने मार डाली
मत मिलना अब हमसे कभी
हमें तो तेरी मोहब्बत की बेवफाई ने मार डाली।

💔💔💔

जल जल के दिल मेरा जलन से जल रहा
एक आस्क मेरे आंख में मुद्दत से पल रहा
जिसका मैं कर रहा हूं घुट घुट के इंतजार
वो बेवफा ना आई मेरा दम निकल रहा।

💔💔💔

लिख लिख कर मिटा दिए तेरी बेवफाई के गीत
क्या करती थी तू भी वफ़ा एक जमाने में।

💔💔💔

तुझे रोते हुए जब भी देखता था
तो मेरे आंखों में आंसू आ जाते थे
अपनी जान कहता था तुझको और सबको बताते थे
छोड़ कर चली गई तो कोई बात नहीं
अपने दर्द को छुपा लिया करते हैं
मेरे दोस्त पूछते हैं किधर गई तेरी जान
मजाक बना कर तेरी बातों को हवा में उड़ा दिया करते हैं।

💔💔💔

कोई राज तो छुपा रखा होगा
यूं ही नहीं खुद को सजा रखा होगा
वो जो मुझे दिल देने से इनकार था तुम्हारा
अब समझ में आया किसी और के लिए बचा रखा होगा।

💔💔💔

ना पूछ मेरे सब्र की इंतहा कहां तक है
तुम सितम कर ले तेरी हसरत जहां तक है
वफा की उम्मीद जिन्हें होगा उन्हें होगा
हमें तो देखना है तू बेवफा कहां तक है।

दर्द भरी बेवफाई शायरी

दिल टूटने वाली शायरी
दिल टूटने वाली शायरी

इंसान के कंधों पर इंसान जा रहा था
कफन में लिपटा हुआ अरमान जा रहा था
जिसे भी मिली बेवफाई मोहब्बत में
वफा की तलाश में शमशान जा रहा था।

💔💔💔

नजर नजर से मिलेगी तो सर झुका लेंगे
वो बेवफा मेरा इम्तिहान क्या लेगा
उसे चिराग जलाने को मत कह देना
वो न समझा है कहीं उंगलियां जला लेगा।

💔💔💔

उसके चेहरे पर इस कदर नूर था
कि उसकी याद में रोना भी मंजूर था
बेवफा भी नहीं कह सकते उसको
प्यार तो हमने किया है वह तो बेकसूर था।

💔💔💔

तेरे शहर का मौसम बड़ा सुहाना लगे
एक शाम चुरा लूं अगर बुरा ना लगे
और तुम्हारे बस में अगर हो तो मुझे भूल जाना तुम
तुम्हें भूलने में शायद मुझे एक जमाना लगे।

💔💔💔

कभी गम तो कभी तन्हाई मार गई
कभी याद आकर उनकी जुदाई मार गई
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने
आखिर में उसकी बेवफाई मार गई।

💔💔💔

नसीब बनकर कोई जिंदगी में आता है
फिर ख्वाब बनकर आंखों में समा जाता है
यकीन दिलाता है कि वह हमारा ही है
फिर ना जाने क्यों वक्त के साथ बदल जाता है।

💔💔💔

ख्वाब में वो तीर चला कर चली गई
मैं सोया था गहरी नींद जगा कर चली गई
मैंने पूछा चांद निकलता है किस तरह
वो चेहरे से अपने जुल्फ हटाकर चली गई।

💔💔💔

आज हम उनको बेवफा बात कर आए हैं
उनके खतों को पानी में बह कर आए हैं
कोई निकाल न ले उन्हें पानी से
इसलिए पानी में भी आग लगाकर आए हैं।

💔💔💔

दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता
बर्बाद हो गए हम उनके मोहब्बत में
और वह कहते हैं कि इस तरह प्यार नहीं होता।

💔💔💔

रास्ते खुद ही तबाही के निकाले हमने
कर दिया दिल किसी पत्थर के हवाले हमने
हमें मालूम है क्या चीज है मोहब्बत
यारों घर अपना जलाकर किए हैं उजाले हमने।

दिल टूटने वाली बेवफाई शायरी

बेवफाई शायरी
बेवफाई शायरी

दिल से तेरी याद को जुदा तो नहीं किया
रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया
हमसे तू नाराज है किस लिए बता जरा
हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया।

💔💔💔

वो बह कर गई थी कि लौट कर आऊंगी
मैं इंतजार ना करता तो क्या करती
वह झूठ भी बोल रही थी बड़े सलीके से
मैं एतबार ना करता तो क्या करता।

💔💔💔

गुजारिश हमारी वह मन ना सके
मजबूरी हमारी यह जान ना सके
कहते हैं मरने के बाद भी याद रखेंगे
जीते जी तो हमें पहचान ना सके।

💔💔💔

काश कि हम उनके दिल में राज करते
जो कल था वही प्यार आज करते
हमें गम नहीं उनकी बेवफाई का बस अरमा था
कि हम भी अपने यार पर नाज करते

💔💔💔

ये दोस्त कभी जिक्र ए जुदाई ना करना
मेरे भरोसे को रुसवा ना करना
दिल में तेरे कोई और बस जाए तो बता देना
मेरे दिल में रहकर बेवफाई ना करना।

💔💔💔

टूटा हो दिल तो दुख होता है
करके मोहब्बत किसी से यह दिल रोता है
दर्द का एहसास तब होता है
जब किसी से मोहब्बत हो
और उसके दिल में कोई और होता है।


Read More👇

Husband Wife Love Shayari in Hindi
Best 2 Line Friendship Shayari in Hindi
Love Shayari in Hindi

Rate this post

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.